स्कूल में ठुकराया था प्रेम प्रस्ताव.. 12 साल बाद लड़की के साथ हुआ ये कांड

ये समाज की विकृत मानसिकता है कि आज भी लड़के, लड़कियों को सिर्फ ऑबजेक्ट के तौर पर देखते हैं.. अगर कोई लड़की पसंद आ गई, तो वो बस उन्हे मिल जानी चाहिए .. वो लड़की क्या सोचती है उसकी क्या चाहत है इससे कोई फर्क नहीं पड़ता। ऐसे में अगर कोई लड़की उनके प्रेम प्रस्ताव को ना कर दें फिर तो उसे इसका खतरनाक अंजाम भुगतना पड़ता है। हाल ही कुछ ऐसा ही मामला सामने आया है जहां लड़की को 12 साल बाद उसके इनकार का अंजाम भुगतना पड़ा।

ये मामला दिल्ली का है, जहां कविनगर में रहने वाली एक युवती एनएच-24 से सटी एक हाउसिंग सोसायटी में ब्यूटी पार्लर चलाती हैं। स्कूल में पढ़ने के दौरान इस युवती ने प्यार का प्रस्ताव ठुकराया था पर उसकी सजा अब 12 साल बाद उसे मिली । दरअसल युवती ने पुलिस को बताया कि करीब 12 साल पहले कांग्रेस नेता व पूर्व मेयर प्रत्याशी लालमन सिंह का भतीजा गुलशन उसके साथ राजनगर के एक  स्कूल में पढ़ता था । तभी वे 12वीं में थें और उसी दौरान गुलशन ने उसे प्रपोज किया था, पर युवती ने उसे ठुकरा दिया था।

इसके बाद पिछले साल गुलशन फेसबुक पर उसका फ्रेंड बन गया और युवती से बातचीत करने की कोशिश की । साथ ही गुलशन ने उसे अश्लीलता भरे मैसेज भेजने शुरू कर दिए। इसके बाद उसने गुलशन को ब्लाक कर दिया। इसके बाद गुलशन ने दीपक नाम के एक युवक को लड़की को परेशान करने के लिए कहा। ऐसे में दीपक ने फेसबुक पर फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी तो युवती ने स्वीकार कर ली। पर थोड़े ही दिनों में दीपक भी इस लड़की को अश्लील मैसेज करने लगा तो फिर लड़की ने दीपक को भी फेसबुक पर ब्लाक कर दिया। इसके बाद दीपक ने लड़की को इंस्टाग्राम पर फॉलो करना शुरू कर दिया और वहां भी उसने वही हरकत करनी शुरू कर दी। इसके साथ ही दोनों लड़के उस लड़की के साथ अवैध संबंध बनाने का दबाव बनाने लगें।

ऐसा लगभग चार महीनों तक चलता रहा .. युवती के अनुसार बीते शनिवार दीपक ने उसे बीच रास्ते में रोक लिया और अपने साथ संबंध बनाने के लिए दबाव डालने लगा और युवती के ना कहने पर उसे धमकी देने लगा । ऐसे में परेशान होकर युवती ने महिला हेल्पलाइन नंबर 1090 पर कॉल किया तो लड़की की शिकायत पर गाजियाबाद से लेकर लखनऊ तक हड़कंप मच गया। कविनगर पुलिस ने इस मामले पर एक्शन लेते हुए कांग्रेस के दोनो आरोपी लड़को को गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि बाद में सीजेएम कोर्ट से दोनों आरोपियों को जमानत मिल गई।