बिना टिकट ट्रेन में पकड़ी गई स्कूली छात्रा, फिर उसके साथ TTE ने किया ये….

नई दिल्ली – दिल्ली से वाराणसी जाने वाली काशी विश्वनाथ एक्सप्रेस में अभी कुछ दिनों पहले एक ऐसी घटना हुई जो बेहद शर्मिंदा करने वाली है। दरअसल, हुआ ये कि टिकट चेकर यानि टीटीई ने एक लड़की को बिना टिकट यात्रा करते हुए पकड़ा और उसके साथ कुछ ऐसा करने की कोशिश की जो ट्रेनों में लड़कियों कि सुरक्षा पर सवाल उठाता है। रिपोर्ट के मुताबिक, टीटीई ने लड़की को बिना टिकट पकड़ने के बाद इस बात का फायदा उठाने के लिए उसे एसी कोच में जगह दिला दी। टीटीई ने अपना रौब दिखाने के लिए लड़की से कहा कि कोई आये तो बोल देना कि तुम टीटीई रवि कुमार मीणा की गर्लफ्रेंड हो।

लड़की के मुताबिक, टीटीई ने उससे कहा कि अगर वह उसकी गर्लफ्रेंड बन जाती है तो वह उसे जिन्दगी भर खुश रखेगा। टीटीई से इस तरह कि बातें सुनने के बाद लड़की उसके ऊपर भड़क गई और टीटीई की शिकायत जीआरपी से कर दी। उसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया। इस मामले में जानकारी देते हुए जीआरपी के एसएसआई हरेंद्र कुमार ने कहा कि, छात्रा बिना टिकट ट्रेन में बैठी थी और उसने टीटीई से सीट के लिए मदद मांगी।

बिना टिकट ट्रेन में पकड़ी गई स्कूली छात्रा, फिर उसके साथ TTE ने किया ये....

एसी कोच में सीट दिलाने के बाद वह उसका फायदा उठाना चाहता था। लेकिन, लड़की के पास ही बैठी एक महिला ने हिम्मत करते हुए ट्रेन में खड़े एक जीआरपी के सिपाही से यह पूरी घटना बता दी। महिला कि सुझबुझ और बहादुरी से ट्रेन में छेड़खानी की एक और घटना होने से बच गई। महिला कि शिकायत पर जीआरपी ने टीटीई रवि कुमार मीणा को गिरफ्तार कर लिया। लेकिन, हैरान करने वाली बात ये हैं कि टीटीई पर पहले से ही बलात्कार का आरोप है। उसे साल 2016 में बलात्कर की कोशिश के मामले में जेल की सजा मिली है इसके बावजूद वह ट्रेन में टीटीई कि नौकरी कर रहा था।

यह घटना गजरौला और काकाठेर के बीच हुई है। पीढीत छात्रा अमरोहा की रहने वाली है। रिपोर्ट के मुताबिक, छात्रा दिल्ली यूनिवर्सिटी में बीएसी द्वितीय वर्ष में पढ़ती है। लड़की वाराणसी कि रहने वाली है और दिल्ली से वापस अपने घर जा रही थी। छात्रा ने बताया कि वह जल्दी में थी और ट्रेन पकड़ने के चक्कर में टिकट नहीं ले सकी। जिसके बाद उसके साथ ऐसी घटना हो गई। पहले से ही बलात्कार के मामले में 16 महीने जेल में रहने के बाद आरोपी को टीटीई के लिए कैसे रखा गया ये भी एक बड़ा सवाल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.