गैंगस्टर ने सलमान को दी खुलेआम धमकी, कहा – तुम्हें जोधपुर में गोली मारेंगे, वजह हैरान कर देगी

जयपुर – राजस्‍थान के जयपुर में 5 जनवरी को बॉलीवुड सुपरस्‍टार सलमान खान की काला हिरण शिकार मामले में पेशी हुई। इसी दौरान गैंगस्‍टर लॉरेंस बिश्‍नोई ने सलमान को पुलिस वालों के सामने ही खुलेआम जान से मारने की धमकी देकर सभी को चौंका दिया। आपको बता दें कि लॉरेंस पहले एक छात्र नेता हुआ करता था जो बाद में गैंगस्‍टर बन गया। gangster issued death threat to salman khan. इस गैंगस्‍टर पर हत्‍या का प्रयास, वसूली और आर्म्‍स एक्‍ट जैसे गंभीर मामलों में 20 से ज्‍यादा केस दर्ज हैं और अब उसने सलामान को जान से मारने की धमकी देकर पुलिस की टेंशन बढ़ा दी है। लेकिन, लॉरेंस जैसे गैंगस्टर ने सलमान को जान से मारने की धमकी क्यों दी इसकी वजह काफी चौकाने वाली है।

खबरों के मुचाबिक लॉरेंस बिश्‍नोई साल 1998 में काले हिरण का शिकार करने को लेकर सलमान खान से नाराज है। सलमान को जान से मारने धमकी देने की वजह भी यही नाराजगी बताई जा रही है। गौरतलब है कि सलमान को कोर्ट द्वारा आरोप मुक्‍त कर दिया गया था, इसकी वजह से काले हिरण का शिकार करने को लेकर बिश्‍नोई समाज सलमान से नाराज है और  लॉरेंस  की ये धमकी उसी का नतीजा है।

जोधपुर के इस कुख्यात गैंगस्‍टर ने सलमान खान को मारने की धमकी देते हुए कहा है कि वह सलमान खान को जोधपुर में ही मारेगा। इस पूरे वाकये का एक वीडियो भी सामने आय़ा है जिसमें यह गैंगस्‍टर सलमान को जान से मारने की धमकी देता हुआ दिखाई दे रहा है। गौरतलब है कि गुरुवार को सलमान खान भी 1998 में काले हिरण को मारने के लिए चल रहे मामले की सुनवाई के लिए कोर्ट में पेश होने के लिए जोधपुर गये हुए थे। उसी वक्त गैंगस्‍टर भी वहां पहुंच गया और उसने पुलिस के सामने ही सलमान को जान से मारने की धमकी दे दी।

आपको बता दें कि सलमान खान पर फिल्‍म ‘हम साथ-साथ हैं’ की शूटिंग के दौरान एक काले हिरण का शिकार करने के मामले में जोधपुर की अदालत में एक केस चल रहा है, जिसकी वजह से सलमान भी वहीं पहुंचे हुए थे। इस दौरान एक और वीडियो सामने आया जिसमें सलमान खान को जोधपुर कोर्ट में नम आखों के साथ देखा गया। दरअसल, पेशी के दौरान सलमान को एक चश्मदीद पूनमचंद का वीडियो दिखाया गया था जिसको देखकर सलमान भावुक हो गए और उनकी आखों में आंसु आ गये। गौरतलब है कि साल 1998 में केस दर्ज होने के बाद से इस मामले में 20 सालों से कानूनी प्रक्रिया चल रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.