पक्षिम बंगाल: आमतौर पर जब किसी व्यक्ति को भूख लगती है तो वह खाने की चीजें खाता है और अपना पेट भारत है। आज के समय में खाने के लिए कई चीजें हैं। जबकि पहले के समय में ऐसा नहीं था। पहले इंसान जंगलों में रहता था और कंदमूल या जानवरों का मांस खाकर जीवित रहता था। लेकिन वो भी किसी खतरनाक जीव को खाने से डरता था। लेकिन आजकल के लोग ऐसी-ऐसी चीजों और जीवों को खाने लगे हैं, जिसके बारे में साधारण इंसान सोच भी नहीं सकता है।

बीयरग्रिल के टीवी शो में वह अजीबो-गरीब जीवों को खाते हुए दिखाई देता है। आज हम आपको एक देशी बीयर के बारे में बताने जा रहे हैं जो कुछ और नहीं बल्कि जहरीले साँपों को खाता है। दरअसल पक्षिम बंगाल उत्तरी 24 परगना जिले के बसीरहाट का रहने वाला 25 साल का युवक राजकुमार दास टीवी पर आने वाले शो से काफी प्रभावित हुआ है। उसके बाद से वह कच्ची मछली, घोंघे, तिलचट्टे, कीड़े-मकोड़ों के साथ ही साँप भी खाने लगा। उसके अजीबो-गरीब खान-पान की वजह से ही लोगों का ध्यान उसकी तरफ गया और वह चर्चा में आया।

जब राजकुमार स्कूल में पढ़ता था तभी से वह वाइल्डलाइफ कार्यक्रम देखने का शौक़ीन है। उस टीवी कार्यक्रम में प्रस्तुतकर्ता दुनिया के सबसे दुर्गम इलाकों में जाकर रहता और अपना जीवन यापन करने के लिए कीड़े-मकोड़े, साँप, छिपकली, मकड़ी, मरे हुए जानवरों का शव खाता था। लगभग 6-7 साल शो को देखने के बाद राजकुमार भी उससे प्रभावित हो गया। तभी से वह भी इन जीवों को खाने के लिए प्रेरित हो गया। हालांकि शुरुआत में उसे कुछ दिक्कते हुई, लेकिन अब वह बड़ी आसानी से कच्ची मछली, साँप, और कीड़े-मकोड़ों को खा लेता है।

राजकुमार ने अपने बारे में बताया कि वह लगभग 6-7 साल ये इन चीजों को खा रहे हैं, लेकिन उन्हें कभी कोई परेशानी नहीं हुई। अब उनकी भूख पहले से ज्यादा बढ़ गयी है। अब वह दिन में 8-10 बार खाना खाते हैं। राजकुमार को यकीन है कि जब उनके खान-पैन की अनोखी आदतें दुनिया के सामने आएगी तो वह भी काफी मशहूर हो जायेंगे। उन्हें भी यह सब काम करने का मौका मिलेगा। फिलहाल राजकुमार चावल के साथ कच्ची मछली, मेंढक, तिलचट्टे, घोंघे, कीड़े-मकोड़े और साँप खाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.