नई दिल्ली – मोदी सरकार ने देश से कालेधन को पुरी तरह से खत्म करने के लिए एक और बड़ा कदम उठाया है। सरकार कालाधन रखने वालों को पकड़ने के लिए नए तरीके निकाल रही है। इसी क्रम में सरकार ने कालाधन रखने वालों को पकड़ने के लक्ष्य से बैंकों से 28 फरवरी तक अपने सभी खाताधारकों से पैन कार्ड या फॉर्म-60 जमा करवाने के लिए कहा है। अगर आपने ऐसा नहीं किया तो आपका बैंक अकॉउंट बंद भी किया जा सकता है। Bank account blocked, pan card.

टैक्स चोरों पर पैनी नजर, खाताधारक जमा करें पैन या फॉर्म 60 –

केंद्र सरकार ने टैक्स चोरो को पकड़ने के लिए बैंकों को खाताधारकों से 28 फरवरी 2017 तक स्थायी खाता संख्या (पैन) या जिनके पास पैन नहीं है, उनसे फार्म-60 हासिल करने को कहा है। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) की तरफ से जारी अधिसूचना के मुताबिक, आयकर नियमों में संशोधन कर बैंकों को जिन खातों को पैन से नहीं जोड़ा गया है उनसे 28 फरवरी 2017 तक पैन या फार्म 60 (जहां पैन नहीं है) से जोड़ने को कहा गया है। हालांकि यह नियम मूल बचत बैंक जमा खातों पर लागू नहीं होगा। बैंकों में पैन या फार्म 60 जमा करने की अंतिम तारीख 28 फरवरी 2017 है।

 

अप्रैल के बाद जमा राशि पर मांगी रिपोर्ट –

बैंकों में पैन या फार्म 60 जमा करने के आदेश के अलावा मोदी सरकार ने बैंकों से 1 अप्रैल 2016 के बाद बैंक खातों में जमा हुई नकद राशि का विवरण मांगा है। दरअसल मोदी सरकार नोटबंदी के बाद बैंक खातों पर कड़ी निगरानी रख रही और देश से कालेधन को खत्म करने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती है। मोदी सरकार ने अभी तक केवल 9 नवंबर के बाद बैंकों में जमा हुए धन पर ही ध्यान दे रही थी। लेकिन कालेधन की इस जांच को सरकार अब और पिछली तारीख तक ले जा रही है। सरकार ने को-ऑपरेटिव बैंकों और पोस्ट ऑफिसों को एक अप्रैल से नौ नवंबर, 2016 के दौरान जमा हुए कैश की रिपोर्ट मांगी है।

SHARE